जवाहरलाल नेहरु उन्नत वैज्ञानिक अनुसंधान केन्द्र
 
 
 

 
   
आण्विक जैविकी एवं अनुवंशिकी

गृह MBGU आंतरिक
आण्विक जैविकी एवं अनुवंशिकी
 

आण्विक जैविकी एवं आनुवंशिकी में अनुसंधान जैविकी के विभिन्न क्षैत्रों में होता है साथ ही जैव औषधीय अनुप्रयोगों के सामान्य सूत्रों से आबद्ध होता है । वर्तमान अनुसंधान क्षैत्र हैं - सांसर्गिक रोगों की श्रेणियाँ, कोशिका चक्र, वर्णक संगठन तथा अनुलेखनात्मक नियंत्रण, विकासात्मक जैविकी तथा आनुवंशिकी ।

आण्विक जैविकी तथा जैव रासायनिकी, आनुवंशिकी,आधुनिक कोशिका तथा विकासात्मक जैविकी तथा अत्याधुनिक जैनोमिक्स अभिगमों का उपयोग करने का अवसर छात्रों को मिलते हैं ।





 
2012, जवाहरलाल नेहरु उन्नत वैज्ञानिक अनुसंधान केन्द्र. Supported by W4RI