• banner 1

  • Banner 2

  • Banner 3

  • Banner 4

  • Banner6

  • Banner 7

  • banner 8

  • Home page banner 5

  • AKAM Fit India freedom

  • AKAM rashtra-gaan

जवाहरलाल नेहरू उन्नत वैज्ञानिक अनुसंधान केंद्र (जेएनसीएएसआर) भारत में बैंगलूर के उत्तर इलाके जक्कुर में स्थित एक बहुआयामी अनुसंधान संस्थान है। यह अपेक्षाकृत युवा अवस्‍था का है और दुनिया भर में प्रसिद्ध है।

हमारा जनादेश, सामग्री से लेकर आनुवंशिकी तक के व्यापक क्षेत्रों को समामेलन करते हुए विज्ञान और इंजीनियरिंग के उच्‍चतम विश्व स्तरीय अनुसंधान और प्रशिक्षण को आगे बढ़ाना और बढ़ावा देना है।

यह 500 से अधिक शोधकर्ताओं की मेजबानी करने वाला एक जीवंत अकादमिक माहौल प्रदान करता है। यह केंद्र भारत सरकार के विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग के तहत एक स्वायत्त संस्थान है और यह एक सम विश्वविद्यालय संस्‍थान है।

AKAM logo
DST logo

अकादम‍ियॉं

विज्ञान और इंजीनियरी के विभिन्न क्षेत्रों के संकाय और छात्रों के साथ, जनेउवैअकें में शोध जो विविध और अंतर विषय की प्रकृति में किए गए हैं। जनेउवैअकें अपने पीएचडी, एकीकृत पीएचडी और एम एससी कार्यक्रम में देश भर से छात्रों को आकर्षित करता है। छात्रों को अगस्त और जनवरी सेमेस्टर में प्रवेश दिया जाता है और उनका चयन अत्यधिक प्रतिस्पर्धी प्रक्रिया के माध्यम से होता है। हमारे कार्यक्रम छात्रों को भविष्य के समाज की चुनौतियों का सामना करने में सक्षम बनाने के लिए अभ‍िकल्‍प‍ित किए गए हैं। जनेउवैअकें में छात्र अपने अनुसंधान क्षेत्रों पर वार्षिक कार्य प्रस्तुतियों के रूप में सक्रिय चर्चाओं का लाभ उठाते हैं।

दुनिया भर के वक्ताओं के साथ नियमित रूप से आयोजित सेमिनारों के साथ-साथ देश के भीतर और बाहर के सहयोगियों के साथ काम करने की सहयोगी प्रकृति, छात्रों को वैज्ञानिकों के वैश्विक नेटवर्क से जुड़ने का अवसर प्रदान करती है। बैंगलोर में जनेउवैअकें का रणनीतिक स्थान, एनसीबीएस, आईआईएससी जैसे अन्य प्रतिष्ठित संस्थानों के करीब होने के कारण, अनुसंधान के भविष्य के क्षेत्रों पर अपने दृष्टिकोण को व्यापक बनाने के लिए पाठ्यक्रम कार्य और कार्यशालाओं के माध्यम से पर्याप्त अवसर प्रदान करता है। केंद्र, देश के कम-विशेषाधिकार प्राप्त क्षेत्रों को सम्‍म‍िल‍ित करते हुए युवा इच्छुक छात्रों के लिए कई आउटरीच कार्यक्रमों की मेजबानी करता है।

अनुसंधान

उच्च शिक्षा का एक शैक्षणिक संस्थान होने के नाते, जनेउवैअकें का प्राथमिक लक्ष्य अच्छी तरह से प्रशिक्षित पीएच.डी. और विज्ञान में स्‍नातकोत्‍तर छात्रों को तैयार करना है जनेउवैअकें में अनुसंधान और अत्यधिक अंतःविषय सहयोगी प्रकृति की है, जो अक्सर उद्योगों के साथ-साथ स्टार्टअप्स के ऊष्मायन से जुड़े पर‍िवर्तन से संबंध‍ित गतिविधियों के लिए अग्रणी होता है। प्रमुख शोधकर्ताओं के अलावा, अतिथि वैज्ञानिक, शिक्षक और छात्र भी इसकी गतिविधियों में योगदान करते हैं। केंद्र में अनुसंधान उन इकाइयों में किया जाता है जिन्हें प्राथमिक अनुसंधान केन्‍द्रीकृत के आधार पर विभाजित किया जाता है।

पदार्थ रसायन विज्ञान में, अनुसंधान के विषयों (अध्‍यायों) में निह‍ित है - नैनो पदार्थ, नैनो साधन(यंत्र), घन अवस्था रसायन विज्ञान, उच्च निष्‍पादन संगणना (कंप्यूटिंग), रंध्रीय पदार्थ, कांच पारगमण, सक्रिय पदार्थ आदि; रासायनिकी में, अधि-आण्‍विक रासायनिकी, रासायनिकजैव‍िकी अंग-उत्‍प्रेरकता, प्रत‍ि जीवाणुकीय चिक‍ित्‍सा विज्ञान, घन अवस्‍था अजैव‍िकी रासायनिकी आदि; सैद्धांतिक विज्ञान में, संगणनात्‍मक नैनो विज्ञान, सांख्यिकीय भौतिकी, मृदु पदार्थ और संघनित पदार्थ भौतिकी, जैवभौतिकी, जैव सूचना विज्ञान, सैद्धांतिक विकासवादी जीव विज्ञान आदि; इंजीनियरी यांत्रिकी में द्रव यांत्रिकी, ष्‍ण हस्तांतरण, कणकीय पदार्थ यांत्रिकी, अरैखिक गतिकी आदि; तंत्रिका विज्ञान(न्‍यूरोसाइंसेस) में जैविक लयात्‍मकता (र्काडियन रिदम) और (विद्युत-शरीर क्रिया विज्ञान) इलेक्ट्रोफिजियोलॉजी; आणविक जीव विज्ञान और आनुवंशिकी में मानव आनुवंशिकी, विषाणु विज्ञान (यरोलॉजी), प्रत‍िरोधविज्ञान (इम्यूनोलॉजी), परजीवी विज्ञान, चयापचय, विकासात्मक जीव विज्ञान, स्टेम सेल (नलिका कोश‍िका), कवक रोगजनक जीव विज्ञान, ऑटोफैगी (स्‍वभक्षी विज्ञान) आदि; और विकासवादी तथा जैव‍िकीय जैव‍िकी में पशु व्‍यवहार, एशियाई हाथियों की सामाजिक-ार‍िस्‍थि‍त‍िकी, जीवन-व‍ृत्‍त-विकास तथा जनसंख्या पारिस्थितिकी; इन क्षेत्रों के शोध परिणाम प्रतिष्ठित उच्‍च संजातों द्वारा समीक्षित पत्रिकाओं में प्रकाशित होते हैं। केंद्र अपने उच्च प्रभाव वाले प्रकाशनों और पेटेंट के लिए प्रसिद्ध है।

Home